October 23, 2020

निर्भया केस – चारों दोषियों को 22 जनवरी को फांसी

दिल्ली- 2012 में निर्भया गैंगरेप मामले में दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट ने मंगलवार को चारों दोषियों का डेथ वॉरंट जारी कर दिया गया. इन चारों को 22 जनवरी की सुबह 7 बजे फांसी पर लटकाया जाएगा. इससे पहले पटियाला हाउस कोर्ट के जज ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए चारों दोषियों से बात की. इस दौरान मीडिया को भी अंदर नहीं जाने दिया गया. सुनवाई के दौरान निर्भया की मां और दोषी मुकेश की मां कोर्ट में ही रो पड़ीं. गौरतलब है कि निर्भया मामले में चारों दोषियों अक्षय, मुकेश, विनय और पवन को पहले ही फांसी की सजा दी जा चुकी है. 

 

  • ऐसे में सवाल उठता है कि उनके पास अब क्या विकल्प बचे हैं। क्या डेथ वॉरंट जारी होने के बाद भी चारों फांसी के फंदे से बच सकते हैं?
  • कानूनी जानकारों के मुताबिक इस मामले में व्यावहारिक तौर पर अब क्यूरेटिव पिटिशन का रास्ता बंद हो गया है पर निर्भया के चारों गुनहगार दया की अर्जी यानी मर्सी पिटिशन दाखिल कर सकते हैं। संसद पर हमले के दोषी मोहम्मद अफजल के मामले में भी डेथ वॉरंट जारी होने के बाद मर्सी पिटिशन दाखिल की गई थी। इसके बाद डेथ वॉरंट के तामील पर रोक लगा दी गई थी। दया याचिका का निपटारा राष्ट्रपति कितने दिनों में करेंगे इसके लिए कोई तय अवधि नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: